In this blog we share the different Hindi notes for peoples. We provide the Hindi notes of Computer science, Haryana GK, India GK, Computer tutorials, Internet, Ms Word, Microsoft excel and Power point and Emails. In this Blog we search every topic related to computer fundamental in Hindi.

Sunday, August 12, 2018

हॉस्पिटल्स डॉक्यूमेंटेशन के क्या फायदे होते हैं हिंदी में वर्णन करे |

0 comments

हॉस्पिटल्स मैं डॉक्यूमेंटेशन कैसे कर सकते हैं |

हॉस्पिटल्स डॉक्यूमेंटेशन के बारे में हिंदी में जानकारी 

1. क्लिनिकल डॉक्यूमेंटेशन (हेल्थ केयर ) :- 

The-purpose-of-documentation

  •  क्लिनिकल डॉक्यूमेंटेशन  एक डिजिटल या एनालॉग रिकार्ड्स का निर्माण हैं, जिसमे चिकिस्ता उपचार, चिकिस्ता प्रिसिक्सन और क्लिनिकल टेस्ट  शामिल है |

  • क्लिनिकल टेस्ट एक्यूरेट और समय पर होना चाहिए और एक रोगी को प्रदान की जाने वाली विषेस सेवाओ को प्रतिबंदिद्त करना चाहिए |

  • नैदानिक दस्तावेज़ीकरण सुधार (सीडीआई) स्वास्थ्य देखभाल के रिकार्ड में सुधार की मान्यताप्राप्त प्रक्रिया है जिससे रोगी के सुधार के सुधार, आंकड़ों की गुणवत्ता और सटीक प्रतिपूर्ति सुनिश्चित हो सके। 

2. मेडिकल रिकार्ड्स :- 

  •   मेडिकल रिकॉर्ड, स्वास्थ्य रिकार्ड और मेडिकल चार्ट का इस्तेमाल किसी एक रोगी के चिकित्सा इतिहास के व्यवस्थित दस्तावेज का वर्णन करने के लिए कुछ समय के लिए किया जाता है और एक विशेष स्वास्थ्य देखभाल प्रदाता के अधिकार क्षेत्र के भीतर समय पर देखभाल करता है|
  • मेडिकल रिकॉर्ड पारंपरिक रूप से स्वास्थ्य देखभाल प्रदाताओं द्वारा संकलित और रखे गए हैं, लेकिन ऑनलाइन डेटा भंडारण में अग्रिमों ने व्यक्तिगत स्वास्थ्य अभिलेख (पीएचआर) के विकास के लिए नेतृत्व किया है जो मरीज़ों द्वारा बनाए जाते हैं, प्रायः तृतीय-पक्ष वेबसाइटों पर। 

  • यह अवधारणा अमेरिकी राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्रशासन संस्थाओं और एएचआईएमए द्वारा समर्थित है|

  • अमेरिकी स्वास्थ्य सूचना प्रबंधन संघ|

दस्तावेज़ीकरण का उद्देश्य (The Purpose of documentation):-                  

                    दस्तावेज़ीकरण का उद्देश्य है: मैनुअल, लिस्टिंग, आरेख और अन्य कठोर या सॉफ्ट-कॉपी लिखित और ग्राफिक सामग्री के उपयोग के माध्यम से सॉफ़्टवेयर या हार्डवेयर का उपयोग, संचालन, रखरखाव या डिजाइन का वर्णन करना है।

                         

No comments:

Post a Comment